नेपथ्य के नायकों का दिलचस्प आख्यान - सुपरस्टार की मौत

 


रामकुमार सिंह का सद्य प्रकाशित उपन्यास सुपरस्टार की मौत एक बहुचर्चित क्षेत्र के अचर्चित सच का आख्यान है। रोचक कथ्य और दिलचस्प भाषा का प्रवाह बनाए रखने वाला ये उपन्यास एक सिटिंग मे पढ़वा लेने की खूबी रखता है। 

उपन्यास की कथाभूमि मुंबई की फिल्म इंडस्ट्री है, जिसका ग्लैमर पूरे देश के युवाओं को हमेशा से अपनी तरफ आकर्षित करता रहा है, यहाँ हर शुक्रवार बदलती किस्मत की कहानियाँ गॉसिप के रूप मे पूरे देश मे तैरती रहती हैं। इन्ही कहानियों मे अपनी भी कहानी जोड़ने की तमन्ना लोगों को इस शहर मे खींच ले आती है। लेकिन यहाँ आने के बाद समझ मे आता है कि इस शहर मे तरह तरह की शक्ल सूरत मे एक अजगर है जो आपके सपनों के ताले के ऊपर कुंडली मारे सब कुछ निगलने के लिए मुंह खोले बैठा है और आप इस से जो कुछ बचा ले गए, वही आपका हासिल बचता है। इस उपन्यास का केंद्रीय कथ्य पाने का नहीं, बचा लेने का है। इस उपन्यास का हर चरित्र अपने खोनेपाने और बचा लेने कि जद्दोजहद मे लगा हुआ है। सबके संघर्ष मे एक खास किस्म कि एकरूपता है, जिसमें सबको डिफ़ेंसिव खेलना है अटैक का अधिकार हमेशा टेबल दूसरी तरफ ही रहता है 

अपनी सनक, जिद, मजबूती और कमजोरी के साथ इस उपन्यास के पात्र उतने सच हैं जितना सच यह कि फिल्म कि सबसे बड़ी जरूरत उसकी कहानी होती है। के॰ गोमा का रहस्यमय चरित्र, लड़की  को लगनेवाला कल्चलर शॉक, लड़के और बूढ़े लेखक का साथ, वर्सोवा और मडआइलैंड कि बस्ती, लोहे कि घुमावदार सीढ़ियों से चढ़ कर पतरे से ढंके कमरे कि चटाइयों पर ओल्ड मोंक कि महफिल। और इन सबमें सबसे भारी सच है एक फिल्म को हिट करवा देने वाली कहानी कि अनवरत तलाश। 

रामकुमार सिंह ने फिल्मी दुनिया को बहुत करीब से देखा है, देखा क्या, खुद भी इसका हिस्सा हैं, सो इस उपन्यास कि प्रामाणिकता मे कोई संदेह नहीं हो सकता। बाकी इस उपन्यास को आप स्वयं पढ़ें और एक रोचक यात्रा पर निकाल जाएँ।

समीक्षक : शिवेंद्र सिंह


उपयान्य लेखक : रामकुमार सिंह
पृष्ठ संख्या : 160
मूल्य : 175/- 
अमेजन से पुस्तक ऑर्डर करें : सुपरस्टार की मौत
Share on Google Plus

About Publisher

0 comments:

Post a comment