'' जीवन एक चुनौती है '' - राजेन्द्र भाणावत (पूर्व आईएएस),



जीवन एक चुनौती है, दर्द नहीं,
जीवन सूर्य का प्रकाश है,
बरसात की बदली नहीं,
जीवन उनके लिए आनन्द है,
जो परेशानियों में भी शांत रहकर
सुख महसूस करते हैं,
जो परेशानियों में जरा भी
असंतुलित हो जाता है,
वह कष्ट के जाल में फंस जाता है,
जो दुखों में भी हंसता रहता है,
उसके लिए
जीवन हंसी है, मीठा दर्द है,
यदि तुम पीड़ाओं को झेलते हुए भी,
मुस्कराते रहने का प्रयत्न करते रहोगे,
असफलताओं के बीच भी आशावान बने रहोगे,
निराशा से बचोगे
और स्वस्थ रहने के लिए सदा
प्रसन्न रहोगे,
तो तुम्हारा जीवन कभी दुखी नहीं होगा।

- राजेन्द्र भाणावत (पूर्व आईएएस)
Share on Google Plus

About Officers Times

0 comments:

Post a comment