रत्नप्रभा को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में नई जिम्मेदारी


चर्चित आईएएस के. रत्नप्रभा को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में नई जिम्मेदारी दी गई है। रत्नप्रभा अब यहां अतिरिक्त सचिव की जिम्मेदारी संभालेगी।
कर्नाटक काडर से ताल्लुक रखने वाली रत्नप्रभा अपने कामकाज और निर्णय क्षमता की वजह से पहचानी जाती रही हैं। अपने शुरुआती दौर से ही वे जहां-जहां रहीं, गहरी छाप छोड़ते हुए आगे बढ़ती रहीं। 1981 बैच में अधिकारी बनी रत्नप्रभा शुरू से ही स्पोट्र्सपर्सन और एक बेहतर व्याख्याता बनने का ख्वाब देखा करती थीं। उनके पिता खुद एक आईएएस अधिकारी थे और मां अच्छी डॉक्टर। रत्नप्रभा का छोटा भाई डॉक्टर है और एक और भाई आईएएस है। पूरी तरह संपन्न, और पढ़े-लिखे परिवार में पली-बढ़ी रत्नप्रभा का विवाह भी आईएएस ए. विद्यासागर से हुआ। धीरे-धीरे अपने कामकाज के तरीके और प्रभाव की वजह से यह जोड़ी दक्षिण भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों में खासी चर्चित हो गई। विद्यासागर 1984 बैच के आईएएस हैं और आंध्र प्रदेश काडर से ताल्लुक रखते हैं।
Share on Google Plus

About Officers Times

0 comments:

Post a comment