गलियारों की सुर्खियों में प्लेबैक सिंगर आईएएस कृष्णा


संस्कृति का संगम कलात्मकता की ऊंचाईयों की किस हद तक ले जा सकता है, जानना हो तो श्रीवात्सा कृष्णा को जरूर जानना चाहिए। भारतीय प्रशासनिक सेवाओं के 1994 बैच के टॉपर और आईएएस अधिकारी श्रीवात्सा कृष्णा अपनी सेवाओं के साथ-साथ गीत-संगीत की दुनिया में भी खासा दखल रखते हैं। उन पर उत्तर भारत के संस्कारों का असर है, तो दक्षिण की कलात्मका का गहरा प्रभाव। कृष्णा चर्चित आईएएस ऑफिसर भी हैं और बॉलीवुड के प्लेबैक सिंगर भी।

हालिया रिलीज फिल्म शंघाई में कृष्णा प्लेबैक सिंगिंग कर चुके हैं। आंध्र प्रदेश सरकार के  सूचना  प्रौद्योगिकी विभाग की कोर टीम का हिस्सा रह चुके कृष्णा को वल्र्ड इकोनॉमिक फोरम की ओर से 100 ग्लोबल लीडर फॉर टुमारो की सूची में शामिल किया गया है। यह खिताब सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उनके आंध्र में योगदान की वजह से कृष्णा को दिया गया है। कृष्णा देश के पहले ऐसे आईएएस अधिकारी भी हैं, जिन्होंने हार्वर्ड से एमबीए की पढ़ाई पूरी की है। कृष्णा फिलहाल आईआईएम बंगलुरू और आईआईटी, मद्रास से एक साथ इंफ्रास्ट्रक्चर पब्लिक प्राईवेट पार्टनरशिप पर शोध भी कर रहे हैं।

हाल ही कर्नाटक काडर में ट्रांसफर भी हुए कृष्णा की पत्नी गुंजन कृष्णा भी 1994 बैच की ही आईएएस अधिकारी हैं। दिल्ली के मॉर्डन स्कूल से स्कूलिंग और कॉलेज की पढ़ाई दिल्ली विश्वविद्यालय से पूरी करने वाले कृष्णा की सिंगिंग के चर्चे इन दिनों गलियारों में जमकर हो रहे हैं।
Share on Google Plus

About Officers Times

1 comments:

  1. rahat ke saath "teri yaad saath hai" gane wale?

    ReplyDelete