बी. प्रसादा राव बने डीजी एंटीकरप्शन


आंध्र प्रदेश। 1979 बैच के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी बी. प्रसादा राव को नई जिम्मेदारी दी गई है। सरकार ने उन्हें महानिदेशक एंटीकरप्शन लगाया है। प्रसादा राव इससे पहले आंध्र प्रदेश स्टेट रोट ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन के वाइस प्रेसिडेंट के पद पर कार्यरत थे। एक बड़े फेरबदल के तहत आंध्र सरकार ने नौ आईपीएस अधिकारियों को इधर-उधर किया है।
गौरतलब है कि प्रदेश में डीजी एंटीकरप्शन के पद को लेकर विवाद खड़ा हो गया था। प्रसादा राव के अलावा डीजी पुलिस रैंक में दो और अधिकारियों को सरकार ने प्रमोट किया है। इनमें वरिष्ठ अधिकारी डी. बोबाथी बाबू और ए.के. खान शामिल हैं। इसी बदलाव में हैदराबाद पुलिस कमीशनर और 1981 बैच के आईपीएस ए.के. खान का भी तबादला कर दिया गया है। खान अब प्रसादा राव की जगह एपीएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक का पद संभालेंगे। इन्हीं के बैचमेट अनुराग शर्मा को हैदराबाद चीफ पुलिस की अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। 1979 बैच के सैय्यद अनवर उल हुडा को डीजी पुलिस (लॉ एण्ड ऑर्डर) की जिम्मेदारी दी गई है। इन्हीं के बैच की अरुणा बहुगुणा को डीजीपी रैंक में प्रमोट किया गया है। अब बहुगुणा आंध्र प्रदेश पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन की चेयरपर्सन होंगी।टीपी दास का भी तबादला करके डीजी प्रिसंस व निदेशक कॉरिश्नल सर्विसेज लगाया गया है। लोकेन्द्र शर्मा जो इन दिनों छुट्टियों पर चल रहे हैं को डीजी स्पेशल प्रोटेक्शन फोर्स तैनात किया गया है। इसी क्रम में वरिष्ठ अधिकारी मदनलाल को आंध्र प्रदेश पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन का प्रबंध निदेशक बनाया गया है। जे.वी. रामूदू को एडीजीपी एंटी नैक्सल स्क्वॉड ऑफ एपी तैनात किया गया है। 1986 बैच के दोमोदर गौतम को युनाईटेड नेशंस में डेपुटेशन से वापस बुला लिया गया है और अब उन्हें एडीजीपी आंध्र प्रदेश स्पेशल पुलिस का पद दिया गया है।
Share on Google Plus

About Officers Times

0 comments:

Post a comment